Breaking News
Thu. Apr 25th, 2024

धनबाद : मोबाइल की लत ने दो छात्रों की ली जान, दोनों ने ही फांसी लगाकर दी जान

धनबाद : मोबाइल की लत ने दो छात्रों की ली जान, दोनों ने ही फांसी लगाकर दी जानधनबाद : मोबाइल की लत ने दो छात्रों की ली जान, दोनों ने ही फांसी लगाकर दी जान
खबर को शेयर करे

Dhanbad News, 11 जनवरी 2024 झारखंड के धनबाद जिले के झरिया और सरायढेला में मोबाइल की लत के कारण दो बच्चों ने आत्महत्या कर ली है। दोनों ही बच्चे लगभग 16 साल के ही थे।

धनबाद के सरायढेला थाना क्षेत्र के सुगियाडीह में एक 16 साल की छात्रा खुशी दास ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतिका के पिता बबलू दास ने बताया कि बुधवार दोपहर खुशी और उनके बेटे के बीच मोबाइल देखने के लिए झगड़ा हुआ था। इस दौरान उनकी पत्नी ने दोनों बच्चों को डांटकर मोबाइल अपने पास रख लिया। इससे दोनों बच्चे नाराज होकर अपने-अपने कमरे में चले गए।

थोड़ी देर बाद जब बबलू दास अपनी बेटी को मनाने के लिए गए तो कमरे का नजारा देखकर हैरान रह गए। उन्होंने बेटी को फंदे से झूलता पाया। इसके बाद उन्होंने उसे उतारा और अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया।

झरिया के बस्ताकोला का रहने वाला 10वीं क्लास का छात्र भी मोबाइल की वजह से आत्महत्या कर गया। बताया जा रहा है कि वह मोबाइल लेकर स्कूल गया था। क्लास में वह फिल्म देख रहा था। इस दौरान शिक्षक ने उसे मोबाइल इस्तेमाल करते हुए देख लिया। शिक्षक ने उससे मोबाइल छीना और प्रिंसिपल को दे दिया। प्रिंसिपल ने छात्र के पिता को बुलाकर फटकार लगाई और मोबाइल वापस कर दिया। उसके बाद छात्र ने अपने घर में फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली।

इन दो घटनाओं से पता चलता है कि मोबाइल की लत कितना खतरनाक हो सकता है। बच्चों को मोबाइल के इस्तेमाल के प्रति जागरूक करना जरूरी है। उन्हें समझाना चाहिए कि मोबाइल का इस्तेमाल सीमित मात्रा में करना चाहिए। मोबाइल के इस्तेमाल के कारण बच्चों में तनाव, अवसाद और आत्महत्या जैसी समस्याएं बढ़ रही हैं।

  • बच्चों को मोबाइल के इस्तेमाल के प्रति जागरूक करें।
  • उन्हें समझाएं कि मोबाइल का इस्तेमाल सीमित मात्रा में करना चाहिए।
  • बच्चों को मोबाइल का इस्तेमाल करते समय जिम्मेदारी से रहने के लिए प्रेरित करें।
  • बच्चों को मोबाइल की लत से दूर रहने के लिए प्रोत्साहित करें।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *