Breaking News
Mon. Apr 22nd, 2024

गुमला : ढाई साल बाद लापता युवक का नर कंकाल बरामद, DNA जांच से होगी शव की पहचान

गुमला : ढाई साल बाद लापता युवक का नर कंकाल बरामद, DNA जांच से होगी शव की पहचानगुमला : ढाई साल बाद लापता युवक का नर कंकाल बरामद, DNA जांच से होगी शव की पहचान
खबर को शेयर करे

Gumla, 27 दिसंबर 2023 – गुमला सदर थाना क्षेत्र के चेटर में बुधवार को एक अर्द्धनिर्मित मकान से नर कंकाल बरामद हुआ है। शिकायतकर्ता निरंजन कुजूर का कहना है कि यह ढाई साल पहले लापता युवक राजा रजक का कंकाल है। फिलहाल डीएनए से इसकी पुष्टि की जाएगी।

जानकारी के अनुसार, चेटर निवासी निरंजन कुजूर ने 16 दिसंबर को गुमला थाना में आवेदन दिया था और कहा था कि ढाई साल पहले परम कुमार लहरी और गणेश महतो ने बाजार टांड़ निवासी राजा रजक की हत्या कर उसके अधूरे घर में गाड़ दिया है। निरंजन ने इस बात की जानकारी राजा रजक के मां गीता देवी व उनके परिवार के अन्य सदस्यों को भी दिया।

गुमला : ढाई साल बाद लापता युवक का नर कंकाल बरामद, DNA जांच से होगी शव की पहचान
गुमला : ढाई साल बाद लापता युवक का नर कंकाल बरामद, DNA जांच से होगी शव की पहचान

निरंजन कुजूर की सूचना के बाद गीता देवी ने 21 दिसंबर को एसपी के नाम ज्ञापन सौंपकर निरंजन द्वारा बताए स्थान पर खुदाई कराने का अनुरोध किया। एसपी के निर्देश के बाद गुमला थाना प्रभारी विनोद कुमार ने पिछले 22 दिसंबर को दंडाधिकारी की उपस्थिति में निरंजन कुजूर के अर्द्धनिर्मित घर में थोड़ी से खुदाई की। शिकायतकर्ता के नशे में होने के कारण पुलिस के अधिकारियों ने उसके बात को हल्के में लिया और खुदाई बंद कर वापस आ गए।

गीता देवी के अनुरोध पर थाना प्रभारी ने मजदूर लगाकर खुदाई कराने और कुछ मिलने पर सूचना देने की बात कही थी। बुधवार को मजदूर लगाकर खुदाई कराने पर एक हड्डी निकला। उसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने पूरी खुदाई की और पार्ट-पार्ट में नर कंकाल को एकत्रित किया।

बेल्ट, बनियान का इलास्टिक, इलायची गुटका का पाउच आदि बरामद किया गया। गीता देवी एवं उसके परिवार के सदस्यों ने दावा किया है कि शव राजा रजक का ही है। खुदाई के दौरान एसडीपीओ, दंडाधिकारी और पुलिस के अधिकारी मौजूद थे।

थाना प्रभारी विनोद कुमार ने कहा कि डीएनए जांच के उपरांत आगे की कार्रवाई की जाएगी। राजा रजक की मां गीता देवी के बयान पर हत्या कर साक्ष्य छुपाने के लिए गड्ढा खोदकर शव को गाड़ने की प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।

थाना प्रभारी ने बताया कि बरामद शव की पहचान के लिए डीएनए जांच कराई जाएगी। इसके लिए शव के परिजनों के डीएनए सैंपल भी लिए जाएंगे। डीएनए जांच की रिपोर्ट आने के बाद ही यह स्पष्ट हो पाएगा कि बरामद शव के अवशेष राजा रजक का ही है या नहीं।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *