Breaking News
Thu. Apr 25th, 2024

ओडिशा में शराब कारोबारी के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी, 300 करोड़ से अधिक की नकदी जब्त

ओडिशा में शराब कारोबारी के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी, 300 करोड़ से अधिक की नकदी जब्तओडिशा में शराब कारोबारी के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी, 300 करोड़ से अधिक की नकदी जब्त
खबर को शेयर करे

रांची, 07 दिसंबर 2023: ओडिशा आयकर विभाग की अनुसंधान शाखा ने बुधवार को शराब व्यापार से जुड़ी डिस्टिलरीज प्राइवेट लिमिटेड और इस समूह की तीन अन्य कंपनियों के ठिकानों पर छापेमारी की। इस दौरान आयकर विभाग की टीम ने 300 करोड़ से अधिक की नकदी जब्त की। यह कंपनी राज्यसभा सांसद धीरज साहू से संबंधित है।

बलदेव साहू एंड ग्रुप ऑफ कंपनीज के बलांगीर कार्यालय पर छापेमारी के दौरान 150 करोड़ से अधिक नकदी जब्त की गई। इसे पश्चिम ओडिशा में सबसे बड़ी स्वदेशी शराब निर्माण और बिक्री कंपनियों में से एक कहा जाता है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, संबलपुर कॉरपोरेट ऑफिस में छापेमारी के दौरान 150 करोड़ से ज्यादा की रकम भी जब्त की गई है। अधिकारियों के मुताबिक, ओडिशा के बोलांगीर और संबलपुर और झारखंड के रांची, लोहरदगा में तलाशी चल रही है। कल तक 50 करोड़ रुपये तक के नोटों की गिनती पूरी हो चुकी थी, लेकिन नोटों की संख्या इतनी अधिक होने के कारण मशीनों ने काम करना बंद कर दिया।

जानकारी के मुताबिक, जिस बौध डिस्टिलरी प्राइवेट लिमिटेड कंपनी पर पहले आईटी ने छापा मारा था, उसकी पार्टनरशिप फर्म बलदेव साहू एंड ग्रुप ऑफ कंपनीज है। बुधवार को इनकम टैक्स की टीम ने सुंदरगढ़ के शराब कारोबारी राजकिशोर प्रसाद जयसवाल के सरगीपाली स्थित घर, ऑफिस और देशी शराब भाटी पर भी छापेमारी की थी। पलासपल्ली में बौध डिस्टिलरी प्राइवेट लिमिटेड के कॉर्पोरेट कार्यालय और कुछ अधिकारियों के घरों पर भी छापेमारी की गई।

इन छापेमारीओं के बाद आयकर विभाग का मानना है कि इन कंपनियों द्वारा आयकर चोरी की जा रही है। विभाग इन कंपनियों के वित्तीय रिकॉर्डों की जांच कर रहा है और आगे की कार्रवाई करेगा।

इस छापेमारी से राज्य के शराब कारोबार में खलबली मच गई है। शराब कारोबारियों को डर है कि आयकर विभाग की कार्रवाई का उन पर भी असर पड़ सकता है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *