Breaking News
Sun. Apr 21st, 2024

कोडरमा : बुजुर्ग से लूट की घटना का 24 घंटे के अंदर खुलासा, चार अपराधी गिरफ्तार

कोडरमा : बुजुर्ग से लूट की घटना का 24 घंटे के अंदर खुलासा, चार अपराधी गिरफ्तारकोडरमा : बुजुर्ग से लूट की घटना का 24 घंटे के अंदर खुलासा, चार अपराधी गिरफ्तार
खबर को शेयर करे

Koderma, 31 दिसंबर 2023: कोडरमा पुलिस ने शनिवार को भारतीय स्टेट बैंक से पैसे निकालकर घर जा रहे एक बुजुर्ग से लूट की घटना का 24 घंटे के अंदर उद्भेदन कर लिया है। इस मामले में चार अंतर्राज्यीय अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस अधीक्षक अनुदीप सिंह ने बताया कि कोडरमा बाजार स्थित भारतीय स्टेट बैंक से बीते शनिवार पैसे निकाल कर घर जा रहे महावीर मुहल्ला निवासी ब्रहमदेव पासवान (64) को अज्ञात अपराधियों ने जबरन चार पहिया वाहन में बैठा कर उनसे 48000 रुपये लूट लिए थे। इस संबंध में पीड़ित ने कोडरमा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

घटना की सूचना पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रवीण पुष्कर के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया था। गठित टीम ने आसूचना संकलन करते हुए एवं घटना स्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की जांच कर अपराधियों द्वारा घटना में प्रयुक्त वाहन की पहचान की। इस आधार पर उक्त वाहन से एक संदिग्ध व्यक्ति को बागीटांड़ चेक पोस्ट के पास पकड़ा गया। पूछताछ में उसने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए बताया कि इस घटना में गिरोह के तीन और अभियुक्त शामिल थे, जो अलग-अलग हो कर जिले से बाहर निकलने की फिराक में है।

कोडरमा : बुजुर्ग से लूट की घटना का 24 घंटे के अंदर खुलासा, चार अपराधी गिरफ्तार
कोडरमा : बुजुर्ग से लूट की घटना का 24 घंटे के अंदर खुलासा, चार अपराधी गिरफ्तार

इस सूचना के आधार पर जिले के सभी होटलों, बस अड्डों एवं रेलवे स्टेशन में जांच अभियान चलाया गया। इस क्रम में गिरोह के अन्य तीनों अभियुक्तों को तिलैया स्टेशन के बाहर खालसा होटल के सामने से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्तों की पहचान उत्तर प्रदेश के कुशीनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत कसया थाना क्षेत्र के नटवलिया निवासी पंकज राव (36) और अहिरोली निवासी धर्मेंद्र कुमार भारती (37), असलम सिद्दीकी (51) व सकलैन (43) के रूप में की है।

एसपी अनुदीप सिंह ने बताया कि गिरफ्तार सभी अभियुक्त एक अंतर्राज्यीय गिरोह के सदस्य हैं। इनके द्वारा पूर्व में भी इस प्रकार की कई घटनाओं को अंजाम दिया जा चुका है और पुराना अपराधिक इतिहास भी रहा है। इनमें पंकज राव पर पूर्व में लूट, गृहभेदन, आर्म्स एक्ट एवं आईटी एक्ट के 14 मामले दर्ज हैं। वहीं, धर्मेंद्र कुमार भारती पर लूट, चोरी एवं आर्म्स एक्ट के 7 मामले, असलम सिद्दीकी पर लूट, चोरी, आर्म्स एक्ट एवं विस्फोटक अधिनियम के 6 मामले और सकलैन पर लूट एवं चोरी के 6 मामले पूर्व में दर्ज हैं। गिरफ्तार अभियुक्तों के विरुद्ध उत्तर प्रदेश गैंगस्टर और असामाजिक एवं रोकथाम अधिनियम के अंतर्गत भी कांड दर्ज हैं।

पुलिसिया पूछताछ में गिरफ्तार अभियुक्तों ने बताया कि इनके गिरोह के द्वारा बैंकों ने अधिक पैसे निकाल रहे व्यक्तियों को रेकी कर उन्हें चिन्हित कर लिया जाता था। इसके बाद बैंक से पैसे लेकर बाहर निकलने पर मौका देखते हुए जबरन चारपहिया वाहन में बैठाकर पैसे लूट कर फरार हो जाते थे। गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से एक मारुती स्विफ्ट कार, 21350 रुपये नगद, छह मोबाइल, लूटे गए पैसों से खरीदा गया नया मिक्सर ग्राइंडर, नये जूते एवं कपड़े बरामद किए गए हैं।

पुलिस ने सभी गिरफ्तार अभियुक्तों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *