Breaking News
Sun. Apr 21st, 2024

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब विधानसभा के सत्र को वैध ठहराया, राज्यपाल को लम्बित बिलों पर फैसला लेने का निर्देश

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब विधानसभा के सत्र को वैध ठहराया, राज्यपाल को लम्बित बिलों पर फैसला लेने का निर्देशसुप्रीम कोर्ट ने पंजाब विधानसभा के सत्र को वैध ठहराया, राज्यपाल को लम्बित बिलों पर फैसला लेने का निर्देश
खबर को शेयर करे

नई दिल्ली, 10 नवंबर 2023: सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को एक बड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने 19 और 20 जून को पंजाब विधानसभा के सत्र को संवैधानिक रूप से वैध ठहराया है। कोर्ट ने कहा कि अब राज्यपाल इस सत्र को वैध मानते हुए अपने पास लम्बित बिल पर फैसला लें।

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि विधानसभा सत्र की वैधता पर राज्यपाल की ओर से संदेह जताना सही नहीं है। विधानसभा में जनता के चुने हुए प्रतिनिधि होते हैं, लिहाजा सत्र को राज्यपाल द्वारा गैरकानूनी ठहराना संवैधानिक रूप से सही नहीं है।

कोर्ट ने कहा कि राज्यपाल को विधानसभा के कार्यों में हस्तक्षेप करने का अधिकार नहीं है। विधानसभा अपनी कार्यप्रणाली के लिए स्वतंत्र है। राज्यपाल को विधानसभा के कार्यों में अवरोध डालने के लिए कोई अधिकार नहीं है।

इस फैसले से पंजाब सरकार को बड़ी राहत मिली है। सरकार अब राज्यपाल के पास लम्बित बिल पर फैसला ले सकती है।

फैसले के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि यह फैसला लोकतंत्र की जीत है। उन्होंने कहा कि राज्यपाल की ओर से विधानसभा के सत्र को गैरकानूनी ठहराने का प्रयास लोकतंत्र के खिलाफ था।

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने भी फैसले का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि यह फैसला राज्यपाल के संवैधानिक कर्तव्यों का निर्वहन करने के लिए एक चेतावनी है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *